विकास दुबे एनकांटर फेक नहीं थे मुठभेड़ - यूपी पुलिस ने दिया जवाब सुप्रीम कोट को

 
vikash dube enkonter police ne diya javab kort ko
 आरोपी विकास दुबे 
विकास दुबे के कानपुर हत्या कांड मुख्य आरोपी के शिलशिले में इधर हाल ही में उत्तर प्रदेश के पुलिस कर्मी ने सुप्रीम हई कोर्ट को जवाब दिया की फेक नहीं था यह विकास दुबे एनकांटर मुठभेड़। यूपी पुलिस कर्मी ने विकाश दुबे समेत उनके गेंग को मार गिराए जाने को लेकर कोर्ट में शनिवार को जवाब दाखिला दिया। 

विकास दुबे एनकांटर  फेक नहीं थे मुठभेड़ - यूपी पुलिस ने दिया जवाब सुप्रीम कोट को

विकाश दुबे इधर हाल ही में यूपी पुलिस कर्मी द्वारा एनकांटर में मारे गये थे जिसके शिलशिले में मारे जाने के बाद हई कोर्ट ने यूपी पुलिस कर्मी से जवाब मांगा था। यूपी पुलिस कर्मी ने हाई कोर्ट को जवाब दिया विकास दुबे एनकांटर  फेक नहीं थे मुठभेड़। सुप्रीम कोर्ट के सामने पुलिस कर्मी ने कहा एनकांटर सही थे। उन्हे फेक नहीं कहा जा सकता है। शनिवार के दिन सुप्रीम कोर्ट में ज्यादा तो कुछ नहीं हुआ पर इसकी अगली बैठक सुनवाई 20 जुलाई को होगी। 

कानपुर के मुख्य आरोपी विकास दुबे


कानपुर के बिकरू गांव में विकाश दुबे के गेंग के साथ एनकांटर में यूपी पुलिस कर्मी में से 8 पुलिस कर्मी को सहीद कर दिया गया था। इस रात कानपुर के बिकरू गांव में देर रात फाइरिंग होते रहें और उसके बाद विकास दुबे और इसके गैंगेस्टर पुलिस कर्मियों के हाथ से भाग निकले। इसके बाद यूपी ASTF पुलिस कर्मी ने अपने आठ पुलिस कर्मी को खो जाने के बाद ASTF ने आठ दिन के भीतर एनकांटर करतें हुए कई आरोपियों को ढ़ेर /मार गिराए। 

इस आरोपियों को गिराए जाने के बाद भी कई आरोपियों अब भी पुलिस कर्मी के हाथों से फिरहार है। पुलिस कर्मी द्वारा 5 लाख रूपये इनामी गैंगेस्टर को दुबे को ढ़ूढ़ने के बाद वह मध्यप्रदेश के एक मंदिर में पकड़ा गया था। यूपी एसटफ के द्वारा कानपुर गैंगेस्टर विकास दुबे पकड़े जाने के बाद मध्य से कानपुर लें आ रही थी।

 तभी रास्ते में पुलिस जीब एक्सीडेंट के बाद आरोपिय भागने की कोशिश करने बावजूद पुलिस कर्मी से बन्दुक छीन ली और फाइरिंग भी की तभी यूपी पुलिस कर्मी द्वार गैंगेस्टर विकास दुबे का एनकांटर कर दिया गया। 

यूपी पुलिस को इस कानपुर में हुये 2 जुलाई के रात को हुए मुठभेड़ के 8 पुलिसवालो की हत्या के आरोपियों 11 लोग के बारे में पता चला है। इस 8 पुलिशवालों की हत्या के आरोपी अब भी यूपी पुलिस कर्मी के गिरफ़त से बाहर है लेकिन यूपी पुलिस कर्मी द्वारा इस आरोपियों को खोजा रहा है। यूपी पुलिस कर्मी द्वारा छापेमारी जारी है। 

0/Post a Comment/Comments

Please do not enter any spam link in the comment box